Health Tips Hindi | 101 आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में | Ayurvedic Upchar

Health Tips Hindi की इस पोस्ट में 101 आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में दिए गए है. यह Ayurvedic Upchar / Health Tips Hindi घरेलु उपचार प्राथमिक जानकारी मात्र है. ध्यान रहे किसी भी उपचार पर अमल करने से पहले विशेषज्ञ की सलाह लेना जरुरी है. 


Health Tips Hindi

1). मधुमक्खी के डंख पर नमक लगाने से दर्द कम होता है.

2). हल्दी को शहद में मिलाकर टॉन्सिल्स के ऊपर लगाने से गले की अंदरूनी सूजन घटती है.

3). शहद के साथ गाजर का रस पीने से पीलिया मिटता है.

4). पानी में लौंग डालकर उबालें, यह पानी पीने से कोलेरा मिटता है.

5). चुटकी भर शहद दिन में चार बार चाटने से कफ की समस्या में राहत मिलती है.

6). उबले हुए प्याज में नमक डालकर फोड़े पर कपड़े से बांधकर रखने से फोड़ा पक जाता है.

7). जामुन के बीज को पानी में घिसकर खील पर लगाने से खील मिट जाते है.

8). छाछ से मुंह धोने पर खील के दाग और चेहरे का श्याम रंग कम होने लगते है.

9). उबले हुए आलू को बिलकुल हल्का गर्म रहने पर खुजली की जगह पर बांधने से खुजली मिट जाती है.

10). पानी में शहद डालकर कुल्ले करने से गले में बढे हुए टॉन्सिल्स कम होते है.

हेल्थ टिप्स घरेलू नुस्खे

11). कान में कीड़ा घुस गया हो तो सरसों के तेल की कुछ बुँदे डालने से कीड़ा मर जाता है.

12). सफ़ेद प्याज का दो बूँद रस रोज कान में डालने से बहरापन मिटता है.

READ : घर में ही लगाएं Badam Tree, फिर यूँ कमाएं पैसे

health tips in hindi images

13). कान में शहद और तेल मिलाकर उसकी बुँदे डालने से कान में होने वाली रसी मिटती है.

14). बेर के पेड़ का छिलका चूसने से आवाज बैठ गई हो तो खुल जाती है.

15). गाजर को पीसकर पेस्ट बनाकर किसी भी आटे से मिलाकर फोड़े या जलनवाले घाव पर बांधने से घाव मिट जाता है.

16). गले में टॉन्सिल्स (गले में अंदरूनी सूजन – Tonsil problem) की समस्या में नमक मिश्रित हल्के गर्म पानी से गरारे करने से टॉन्सिल्स में राहत मिलती है.

17). कभी भी शाम को 5 बजे के बाद हेवी फ़ूड नहीं खाने चाहिए. वहीँ रात का भोजन शाम 7 बजे से पहले करें. और रात के भोजन में हलके भोजन ही खाएं.

18). दवाइयां कभी भी ठन्डे पानी के साथ नहीं लेनी चाहिए. बल्कि इसे सामान्य पानी के साथ अथवा हलके गर्म पानी के साथ ही लें.

19). शरीर को आराम देने के लिए सोने का सही समय रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक का होता है. शरीर को 8 घंटे की नींद आवश्यक है.

20). अंगूर खाने से हार्टअटैक का रिस्क कम हो जाता है. साथ ही ये कोलेस्ट्रॉल तथा ब्लडप्रेशरको भी कम करता है.

बॉडी हेल्थ टिप्स

health tips images download

21). केला लॉ ब्लडप्रेशर के लिए फायदेमंद होता है. इसमें पोटेशियम और लॉ सॉल्ट होता है जिससे ये हार्ट को बीमारी से बचाता है और एनर्जी देता है.

22). आवाज़ बैठ जाने पर एक पक्के अनार (Pomegranate) के सेवन से आवाज खुल जाती है.

23). जले हुए घाव पर खूब पके केले को पीसकर लगाने / बांधने से तुरंत आराम मिलता है.

24). जहरीले कीड़े के काटने पर वहां करी पत्ते को पीसकर लगाने से डंख की पीड़ा कम होती है और सूजन उतरती है.

25). शर्दी / झुकाम में गुळ का सेवन अकसीर है. शर्दी के साथ अगर बलगम की समस्या हो तो काली मिर्च पावडर और अदरक के साथ गुळ का सेवन करने से राहत होती है.

26). बिच्छु के डंख पर प्याज काटकर बांधने से ज़हर का असर कम होता है.

27). रोज सुबह खाली पेट अजवाइन और गूळ साथ में खाने से और रत को जुलाब लेने से चर्म रोग मिटता है.

28). कुत्ते के काटने पर प्याज का रस और शहद मिलाकर घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता है.

health tips pictures

29). सामान्य बुखार में पाव चम्मच नमक गर्म पानी के साथ दिन में तीन बार लेने से बुखार उतर जाता है. बुखार उतरने के बाद दो दिन तक सुबह शाम इतना ही नमक लेने से बुखार फिर नहीं चढ़ता.

30). ठण्ड के साथ होने वाले बुखार में ढाई ग्राम अजवाइन का सेवन करने से ठण्ड का जोर नरम पड़ता है और पसीने के साथ बुखार भी उतरने लगता है.

Health Tips in Hindi Images

31). करी पत्ते को पानी के साथ पीसकर, छानकर वह पानी पीने से बवासीर मिटता है.

32). दो चम्मच अदरक का रस शहद के साथ लेने से दमा के रोग में राहत मिलती है.

33). ताजे मक्खन के साथ शहद का सेवन करने से क्षय रोग में राहत मिलती है.

34). हींग को पानी में उबालकर कुल्ले करने से दाँत का दर्द मिटता है.

35). नसकोरी फूटने (नाक सेखून बहना) पर नाक में ठन्डे पानी की धार करने या पानी की छालक मारने से बहता खून बंद होता है.

36). अदरक और निम्बू के रस में आधा चम्मच काली मिर्च का पावडर डालकर पीने से पेट दर्द मिटता है.

health tips hd images

37). पेशाब रुक रुक कर आने के समस्या में मूली का रस पीने से फायदा मिलता है.

38). बार-बार पेशाब लगने लेकिन पेशाब न आने की समस्या में दूध में सामान्य सोडा मिलाकर पीने से तुरंत राहत मिलती है.

39). इलायची के पावडर को आंवला या आंवले के रस के साथ लेने से पेशाब की जलन में राहत मिलती है.

40). पुराना गुळ और हल्दी छाछ में मिलाकर पीने से पथरी पिघल जाती है.

स्वस्थ रहने के 10 उपाय

41). नागरबेल के पत्ते (पान) पर अरंडी का तेल लगाकर, बिलकुल हल्का सा गर्म करके बच्चो के छाती पर रखने, तथा कपड़े से शेंक देने से कफ की समस्या में राहत मिलती है.

42). बच्चो के मसूढ़ों पर हल्के से शहद और सेंधा नमक घिसने से बच्चो के दाँत आसानी से आते है.

43). सौंठ, काली मिर्च और तुलसी के पत्ते का काढ़ा पीने से शर्दी मिट जाती है.

44). रातो सोते समय एक प्याज खाने से (प्याज खाने के बाद पानी न पिएँ) शर्दी मिटती है.

ayurvedic upchar hindi

45). कड़वे नीम के पत्ते उबालकर तथा सामान्य गर्म रहने पर सूजन के ऊपर बांधने से सूजन कम होती है.

46). स्त्रियों में बार-बार बेहोश होने की समस्या हो तो कुछ महीने नियमित खजूर खाने से हिस्टीरिया रोग मिटता है.

47). सौंफ, दूध और बड़ी शक़्कर का ठंडा शरबत पीने से नींद अच्छी आती है.

48). रात को सोते समय जरा सा शहद चाट लेने से नींद अच्छी आती है.

49). कड़वे नीम के पत्तों का रस नियमित पीने से डायबिटीज मिटता है.

50). आँख में चुना पड जाए तो आँख में शुद्ध घी आंजने से राहत मिलती है.

स्वस्थ रहने के लिए क्या खाएं क्या पिए?

51). गुर्दे (Kidney) के रोगो से बचाव का सरल उपाय है हर घंटे ज्यादा से ज्यादा पानी पीते रहे. इससे गुर्दे में मौजूद विजातीय तत्व पेशाब के साथ बहार निकल जाएंगे और आपके गुर्दे स्वस्थ रहेंगे.

52). मखानो को देशी घी में भूनकर खाने से दस्त तथा शरीर के दर्द में आराम मिलता है तथा शरीर की कमजोरी दूर होती है.

अपने शरीर को मेंटेन कैसे करें?

53). टमाटर के सेवन से है BP की बीमारी से निजात पाई जा सकती है. BP के रोगियों को रोज पके हुए लाल टमाटर सेंधा नमक डालकर सलाद के रूप में खाने चाहिए.

54). कच्चा केला विटामिन तथा खनिज का उच्च स्त्रोत है. कच्चे केले की सब्जी काफी पौष्टिक होती है तथा इसके सेवन से दस्त तथा पेचिस में लाभ होता है. केले की सब्जी बहोत कम तेल में बनानी चाहिए, तल कर कभी न खाए.

55). दांतो में दर्द, मसूढ़ों में दर्द अथवा सूजन की समस्या से राहत हेतु एक ग्लास पानी में 3 से 4 अमरुद के पेड़ के पत्ते उबाल लें. ठंडा होने पर इसे छानकर नमक के साथ कुल्ले करने से लाभ होता है.

स्वस्थ रहने के 25 नियम

56). हल्दी में कूक्युमिन (Curcumin) नामक पदार्थ पाया जाता है जो लिवर को सुरक्षित रखने में बहोत सहायक है. यह तत्व हल्दी को पीला रंग देता है तथा लिवर को कैंसर जैसी बीमारी से भी बचाता है.

57). भिंडी में पेक्टिन तथा घुलनशील फाइबर पाया जाता है जो रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करता है. जिससे हदयरोग का खतरा कम रहता है.

58). जोड़ों के दर्द में सरसों के तेल की मालिश करना बहुत फायदेमंद होता है. इसके अलावा सरसों के तेल के सेवन से अंदरुनी दर्द में भी आराम मिलता है.

59). मच्छर के काटने से लाल चकत्ते पड़ जाते है. जिनमे बहोत खुजली तथा जलन होती है. इसके लिए एक निम्बू काटकर उसका रस प्रभावित स्थान पर लगाने से शांति मिलती है.

60). कमलककड़ी का सेवन मधुमेह के रोगियों को अवश्य करना चाहिए क्योंकि यह सुगर लेवल को कम करती है. 

100 health tips in hindi

61). गर्मी के दिनों में पंखे, कूलर तथा AC के कारण हाथ पैरों में अकड़ाहट हो जाती है. इसके लिए प्याज के रस को गुनगुना करके हथेलियों तथा पैरों के तलवों की मालिश करने से लाभ होता है.

62). महेंदी में दही और आंवला का चूर्ण मिलाकर दो-तीन घंटे बालो में लगाने से बाल घने, मुलायम काले और लम्बे होते है.

63). एक बाल्टी पानी में उतना गुनगुना पानी ले जिसमे पैर डूब जाएं. इसमें एक निम्बू का रस मिला लें और 15 मिनट तक पैर डुबोएं रखें. फिर पैरो को साफ कर कुछ चिकनाई लगा लें. इससे पैर की सुंदरता बढ़ती है.

64). रात को 8 – 10 मुनक्के पानी में भिगो दें. सुबह इनके बीज निकालकर मुनक्कों को अच्छे से चबाकर खाने से शरीर में खून बढ़ने के साथ खून साफ भी होता है.

5 Health Tips in Hindi

65). हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए थोड़ा सा नमक लहसून में मिलाकर पीस लें और चटनी बना लें. इस चटनी के सेवन से हीमोग्लोबिन का इलाज करने में मदद मिलती है.

66). गले में खराश होने पर 2 – 3 तुलसी के पत्तो को पानी में डालें और हल्की आग में उबालें. जब तुलसी का सारा रस निकल जाएं तब उस पानी से गरारे करें.

67). रोज रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद को एक गिलास पानी में मिलाकर पिने से कब्ज दूर होता है.

68). त्वचा पर झुर्रियों को दूर करने के लिए एक चम्मच उड़द दाल भिगोकर रातभर के लिए रख दें. सुबह पीसकर पेस्ट बना लें, इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने से झुर्रियां दूर करने के साथ साथ त्वचा को चमकदार बनाती है.

१०० हेल्थ टिप्स

69). दांतो के पीलेपन को दूर करने के लिए चुटकीभर नमक में दो-तीन बुँदे सरसों के तेल की मिलाकर दांत साफ करें.

70). प्याज पीसकर उसका रस कपडे से छान लें. फिर उसे गरम करके चार बून्द कान में डालने से कान का दर्द मिट जाता है.

71). हल्दी, मेथी दाना, सौंठ 100 – 100 ग्राम लेकर पावडर बना लें. इसे सुबह नाश्ते के बाद और शाम खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ लेने से जोड़ो के दर्द, गठिया और कमर दर्द में राहत मिलती है.

72). हमारे शरीर में बड़ी मात्रा पानी की होती है इसलिए शरीर में पानी की जरूरी संतुलन बनाए रखना जरूरी है. जिससे शरीर का आंतरिक तापमान भी सामान्य रहता है और मांशपेशियां भी सक्रिय रहती है.

73). राजमा में प्रोटीन का बड़ा स्रोत है. यह शरीर की पाचनक्रिया बढ़ाने तथा हड्डियों को मजबूती देने में सहायक है.

हमें स्वस्थ रहने के लिए क्या खाना चाहिए

74). चने के बेसन में मलाई अथवा दूध मिलाकर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को चेहरे पर 15 मिनट तक चेहरे पर लगाए रखे. इससे चेहरे का रंग खिल उठता है. 

75). रोजाना गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से शरीर में आयरन की कमी दूर होती है. और खून में हीमोग्लोबिन का प्रमाण बढ़ता है.

76). राई का पावडर बनाकर उसमें शहद मिलाएं और पेस्ट तैयार कर लें. यह शरीर में कहीं भी कांटा चुभने, खरोंच लगने पर प्रभावित स्थान पर लगाने से राहत मिलती है. और इन्फेक्शन स्व बचाव होता है.

100 साल तक कैसे जीवित रहे

77). देशी गुलाब की सूखी पंखुड़ियों में उतनी ही शक्कर मिलाकर चूर्ण बना ले. इसका सुबह शाम गुनगुने दूध के साथ सेवन करने से दिल की बढ़ी धड़कन सामान्य हो जाती है.

78). सर्दी – झुकाम की समस्या में रात को सोने से पहले 7-8 मुनक्का के बीज निकाल कर एक गिलास दूध में उबालें. दूध ठंडा होने पर मुनक्का खा लें और ऊपर दूध भी पी लेने से काफी राहत मिलती है. 

79). अजवाइन, काली मिर्च, सौंठ और काला नमक बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बना लें. इस चूर्ण को गुनगुने पानी अथवा छाछ में मिलाकर पीने से पेट फूलने की समस्या दूर होती है.

80). प्याज में सल्फर नामक तत्व होता है. यह शरीर की प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने तथा कैंसर के सेल्स को बढ़ने से रोकता है. बेहतर परिणाम के लिए कच्चा प्याज ही खाएं. 

100 Health Tips in Hindi

81). मुंह के छालों की समस्या में कढ़ी पत्ते को पानी मे उबालें और उस पानी से गरारे करने से राहत मिलती है. मुंह की बदबू में 4-5 कढ़ी पत्ते चबाने से फायदा मिलता है.

82). सामान्य बुखार में कड़वे नीम के पत्तो को पानी में उबाल लें. इस पानी से स्नान करने पर सामान्य बुखार हो तो जल्द ही उतरने लगता है. 

83). कभी सफर के दौरान उलटी होने का खतरा रहता हो तो एक या दो करी पत्ते को चबा लें. इससे उलटी होने से बचाव रहता है.

84). दांतो में झनझनाहट की समस्या काले अथवा सफ़ेद तील को प्रभावित दांतो से खूब चबाकर खाएं। इससे बहोत ही जल्द फायदा मिलता है.

85). जीरे का पावडर बनाकर उसे 3 ग्राम की मात्रा में गुनगुने पानी के साथ दिन में दो बार लेने से पेट दर्द और बदन दर्द से छुटकारा मिलता है. 

86). छोटे बच्चे अगर रात में बिस्तर पर पेशाब कर जाते हो तो उसे सोने से पहले जरा से काले तील खिला दें. 

स्वस्थ रहने के लिए सुबह क्या करना चाहिए?

87). दो बड़ी इलायची के दाने, एक चम्मच अजवाइन, एक चम्मच सूखा पुदीना और आधा चम्मच सेंधा नमक का पावडर करके चूर्ण बना लें. इसे सुबह शाम ताजे पानी के साथ लेने से आँव के रोग में राहत मिलती है.

88). थोड़ी सी अजवाइन को दरदरा पीस कर कपड़े में बांध लें. सर्दी – झुकाम में बंद नाक होने पर इसे सूंघने से बंद नाक खुल जाती है. 

89). गेहूं के चोकर में भी विटामिन्स और पोषक तत्व होते है. यह हदयरोग से बचाव और कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक है, इसके अलावा ये आंतो की बीमारी तथा कब्ज की शिकायत भी दूर होती है.

90). छोटी चेचक (chickenpox) हो गए हो तो चने के बेसन को पानी में मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाएं रखें. कुछ देर बाद पानी से स्नान कर लेने से राहत मिलती है.

91). अगर एलर्जी, ड्राय स्किन या फिर एक्ने से त्वचा पर लाल दाग हो गए हों या सूजन हो गयी हो. तो शहद का लेप काफी राहत पहुंचाता है. अगर लू या सनबर्न से स्किन पर लाल दाग हैं तो शहद का लेप न लगाएं. 

92). चेहरे को हाइड्रेट करने में एलोवेरा जेल और खीरा बहुत फायदेमंद है. इसका लेप बनाने के लिए दो चम्मच एलोवेरा जेल और एक चम्मच खीरे के रस को अच्छे से मिलाकर घोल बनाएं. इसे आधे घंटे तक चेहरे पर लगाए रखें फिर ठंडे पानी से धो लें. इसके बाद एक बूंद मॉस्चराइजर चेहरे पर हल्के हाथों से मसाज करें. चेहरा निखर जाएगा.

Health Tips In Hindi

93). गुळ से बने शरबत में सेंधा नमक मिलाकर पीने से खट्टी डकारें आने की समस्या नही रहती.

94). ऑयली त्वचा से छुटकारा पाने के लिए एवोकैडो फ्रूट, एक अंडे का सफेद भाग तथा एक निम्बू का रस अच्छे से मिलाएं. अब चेहरा धो लें फिर इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और 25 मिनट तक रहने दें. फिर चेहरा धो लेने से त्वचा का एक्स्ट्रा ऑयल साफ हो जाएगा.

95). काले अंगूर को पानी में उबालकर वह पानी पीने से भी पथरी पिघल जाती है.

96). एक चम्मच पालक की भाजी का रस शहद में मिलाकर रोज पीने से कमजोर बच्चो के शरीर का विकास होता है. 

97). खाने के बाद तुरंत गुळ खाने से पाचनक्रिया सुधरती है, साथ ही गैस, एसिडिटी जैसी समस्या भी नही रहती.

98). तुलसी के पत्तो को छाया में सुखाकर चूर्ण बना लें. इस चूर्ण को एक चौथाई चम्मच की मात्रा में थोड़े से शहद के साथ सुबह शाम लेने से माइग्रेन में लाभ होता है. 

99). पपीते के छिलके सुखाकर, पीसकर बरी पावडर बना लें. फिर इसमें ग्लिसरीन मिलाकर चेहरे पर धीरे-धीरे लगाने से त्वचा साफ होती है.

100). कान में सरसों के तेल की बूंदे डालने से भांग का नशा उतर जाता है.  

101). मूँग के सुप में सेंधा नमक मिलाकर एक या दो चाय के कप जितना पीने से आंतो में जमा मल निकल जाता है और कब्ज नहीं रहता. 

Hindispeak.com की 101 आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में | Health Tips Hindi | Ayurvedic Upchar पोस्ट शेयर जरूर करें.

और यहाँ 5 स्टार ★★★★★ दीजिए.

5/5 - (2 votes)

1 thought on “Health Tips Hindi | 101 आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में | Ayurvedic Upchar”

Leave a Comment

Join WhatsApp Group