रियल लाइफ short स्टोरी इन हिंदी | बड़ा अफसर – प्रेरणादायक कहानी

रियल लाइफ short स्टोरी इन हिंदी | शार्ट मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी | Real life short story hindi | Hindi short story motivational.

ये एक ऐसी सच्ची घटना पर आधारित कहानी है. जो इंग्लैंड के एक समय के प्रधानमंत्री चर्चिल विंस्टन के साथ घटी थी.

ये कहानी छोटी सी है लेकिन इसकी सीख बहोत मोटी है.

एक व्यक्ति अपनी गाड़ी को साधारण स्पीड से चला कर जा रहा था.

लेकिन आगे दुर्गम रास्ता था और वहां पर एक गाड़ी पहले से रुकी हुई थी.

ड्राइवर ने अपनी गाड़ी की स्पीड को धीमा किया.

और देखा तो नजर आया कि रास्ते में एक पेड़ की बड़ी टहनी टूट कर गिर पड़ी है.

और कुछ लोग बस उसे हटाने की कोशिश कर रहे हैं.

ड्राइवर ने देखा वो टहनी बहुत वजनदार थी और उन लोगों से हट नहीं रही थी.

इसलिए उसने गाड़ी से उतर कर उसकी मदद करने का निर्णय किया.

जब वह नजदीक गया तो मालूम हुआ कि वहां 4 लोग मिल मिलकर टहनी को रास्ते से दूर धकेलने की कोशिश कर रहे थे.

और एक शख्स हाथ में छड़ी लेकर उसे निर्देश दे रहा था.

शार्ट मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी / रियल लाइफ short स्टोरी इन हिंदी

इससे ड्राइवर को बड़ा आश्चर्य हुआ.

उसने निर्देश देने वाले व्यक्ति के पास पहुंचकर शांति पूर्वक पूछा,

श्रीमान यह 4 लोग इस पेड़ की टहनी को हटाने में कोशिश कर रहे हैं लेकिन इनसे यह हट नहीं रही है यदि आप भी अपनी छड़ी को बाजू में रखकर इनकी मदद करें तो शायद यह टहनी हट जाएगी

इसके जवाब में उस शख्स ने बताया,

ये चारों लश्कर के जवान है और मैं इनका बड़ा अफसर हूं. इसलिए यह काम मेरे करने का नहीं है.

मेरा काम सिर्फ इन्हें निर्देश देना है. अगर तुम्हें इनके बारे में इतनी ही परवाह है तो तुम्हें खुद ही इनकी मदद करनी चाहिए 

यह सुनकर वह ड्राइवर बिना कुछ बोले उन चार शख्सों की मदद करने में लग गया जो टहनी हटाने के लिए जूझ रहे थे.

कुछ देर तक सभी ने मिलकर प्रयास किया.

आखिर में वह टहनी रास्ते से हटाने में कामयाब रहे.

इसके बाद वह ड्राइवर फिर से निर्देश देने वाले अफसर के पास आया और कहा,

Real life short story hindi

देखा आपने, हम सब ने मिलकर इस टहनी को रास्ते से हटा दिया है.

यह बात ठीक है कि आप लश्कर में बड़े अफसर होंगे. लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप अपने जूनियर के साथ काम नहीं कर सकते.

मेरा नाम चर्चिल विंस्टन है और मैं इंग्लैंड का प्रधानमंत्री हूं.

फिर भी मुझे अपने जूनियर के साथ काम करने में कोई संकोच नहीं होता.

आगे भी अगर ऐसे किसी रास्ते में ऐसी बाधाएं आ जाए तो मुझे बुला लेना मैं मदद करने आ जाऊंगा.  – (Hindi short story motivational)


सीख

इस कहानी से हमें यह सीखना चाहिए कि हम समाज में किसी भी बड़े ओहदे पर हो फिर भी हमारे अंदर उसका अभिमान नहीं आना चाहिए.

साथ ही हमें यह भी सीखना चाहिए कि किसी को अपने से नीचे और हल्का नहीं समझना चाहिए.

यह कहानी एक सीख ये भी देती है कि हम अगर मिलकर प्रयास करें तो छोटी हो या बड़ी सभी समस्याओं का हल किया जा सकता है.

हमें उम्मीद है की आपको यह कहानी जरूर पसंद आई होगी.

आप इसे फेसबुक पर भी शेयर कर सकते है.


आपको यह कहानियां भी पसंद आएगी.

  1. बाप – बेटा / (Hindi motivational story)
  2. गुस्से का इलाज – (Gusse ka ilaj motivational story hindi)
  3. मां की आखरी शिकायत – (Maa ki emotional short story)
  4. राजा और बाज़ की कहानी / Raja aur baaz ki kahani
  5. भयानक तस्वीर – छोटी सी कहानी प्रेरणादायक
  6. जब काम न बने तो ये कहानी पढ़ लेना
1.5/5 - (2 votes)

1 thought on “रियल लाइफ short स्टोरी इन हिंदी | बड़ा अफसर – प्रेरणादायक कहानी”

Leave a Comment

Join WhatsApp Group